Select Page



लाइफस्टाइल डेस्क. व्रत में साधना और आराधना के साथ-साथ खानपान का भी विशेष ध्यान रखना जरूरी है। व्रत के दौरान किस तरह का फलाहार करें और व्रत के आख़िरी दिन किस तरह का भोजन ग्रहण करें इस बारे में जानना बहुत ज़रूरी है, ताकि व्रती को संतोष के साथ ही ऊर्जा भी महसूस हो। डाइटीशियन अंशिका सिंह बता रही हैं व्रत के दौरान और व्रत के बाद कैसा हो डाइट चार्ट…

1- कुछ व्रती नौ दिनों तक केवल फल खाते हैं, व्रत के अन्य आहार नहीं करते हैं। ऐसे में ऊर्जा बनाए रखने के लिए फलों का सेवन भरपूर मात्रा में करें। सुबह लस्सी या नारियल पानी व रात में फ्रूट रायता लेना बेहतर होता है।

2- कुछ व्रती कम से कम फलाहार का सेवन करना पसंद करते हैं। व्रत में जरूरी है शरीर को पर्याप्त ऊर्जा मिले। ऐसे में सुबह के वक़्त एक कप चाय पिएं और फलाहार हल्का लेकिन सेहतमंद लें। गरिष्ठ खाने से बचें। तला भोजन जैसे साबूदाने के बड़े आदि न लें बल्कि फ्रूट चाट, लस्सी, पुलाव आदि ले सकते हैं। इन्हें भी शाम को लें।

3- जो व्रती नौ दिनों तक सिर्फ एक चीज़ (लौंग या कोई एक फल) के सेवन का संकल्प लेते हैं, वे व्रत खोलते समय तैलीय या अधिक मात्रा में एक साथ भोजन न करें। फल, जूस, नारियल पानी और हल्का भोजन करें।

4- जो व्रती पहली बार नौ दिनों के व्रत रख रहे हैं, वे इस डाइट चार्ट को फॉलो कर सकते हैं।

  • सुबह के वक़्त : चाय या दूध।
  • नाश्ते में : एक गिलास छाछ या नींबू पानी, एक कटोरी फलों का सलाद, ग्रीन टी या हर्बल टी ले सकते हैं।
  • दोपहर का फलाहार : सलाद/ शकरकंद, साबूदाने की खिचड़ी, सलाद, समा के चावल और दही का सेवन कर सकते हैं।
  • शाम के नाश्ते में : चाय, ड्रायफ्रूट्स/ भुनी मूंगफली।
  • रात का फलाहार : सलाद, फ्रूट चाट, सेब-खीरा, साबूदाना वड़ा।

5- वत खोलने के बाद अगले चार दिन तक आप इस डाइट चार्ट को फॉलो कर सकते हैं।

  • सुबह के वक़्त : जीरे का गुनगुना पानी और 30 मिनट बाद जूस
  • नाश्ते में : वेज सैंडविच और पनीर रोल ले सकते हैं।
  • दोपहर का भोजन : दाल, सब्ज़ी, ओट्स रोटी। भोजन के 20 मिनट बाद गुनगुना नींबू पानी पी लें।
  • शाम का नाश्ता : मखाने, मूंगफली या चने ग्रीन टी के साथ।
  • भोजन के पहले : अंकुरित अनाज ले सकते हैं।
  • रात के भोजन में : वेजिटेबल सूप का सेवन करें।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


navratri 2018 change diet during fast and navratri vrat

Read Original Article / News

Latest Health News by Dainik Bhaskar

Visit our Hospitals Website

WhatsApp WhatsApp us